Gande Sher O Shayari – Na Jaane Kaun Si



ना जाने कौन सी शिलाजीत है तेरी यादो में..

जब भी सोचता हु तनतना जाता है..:-P 😀