Dirty Jokes – An Unknown Shaayar



An Unknown Shaayar wrote a Beautiful Line:

जमाने के लिए KaL होली है, मै तो तेरी याद में रोज पिचकारी छोड़ता हूँ।