अश्लील जोकस – अर्ज़ किया है: रात भर आई



अर्ज़ किया है: रात भर आई नहीं और हम हिला-हिला कर यूँ ही सो गए; ज़रा गौर फरमाईये: रात भर आई नहीं और हम हिला-हिला कर यूँ ही सो गए; . . . . . जो हिला रहे थे वो था पंखा, जो आई नहीं वो थी बिजली। सालो कभी तो सीधा सोच लिया करो।